VCA Power Plant Dhod, धोद में लगेगा बायोमास वेस्ट को नष्ट करने का बड़ा प्लांट, पढ़े पूरी जानकारी

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
VCA Power Plant Dhod

VCA Power Plant Dhod


VCA कंपनी द्वारा सीकर जिले के धोद पंचायत समिति क्षेत्र में पावर प्लांट लगाने के लिए लगभग 15 एकड़ जमीन खरीदी गई है, और इस प्लांट से उत्पादित विद्युत को राजस्थान ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड के साथ 25 वर्षों के लिए कॉन्ट्रैक्ट साइन किया गया है यह कंपनी अपशिष्ट से बिजली का निर्माण करेगी जिसमें ऊर्जा के क्षेत्र में एक नया विकास देखने को मिलेगा, धोद क्षेत्र के आसपास के इलाकों में होने वाले वेस्टेज को अब बिजली बनाने के काम में लिया जाएगा, और फिर लोगों को बिजली की सप्लाई दी जाएगी, VCA Power Plant Dhod | VCA Power Plant Dhod Meating | VCA Power Plant Dhod 2023

Bill Dikhao 1 Crore Cash Pao, सिर्फ बिल दिखाने से सरकार देगी एक करोड़ रुपये, तुरंत आपके खाते में, नई योजना FREE

VCA Power Plant Dhod में लोगों का विरोध

VCA Power Plant Dhod


इस कंपनी के द्वारा लगाए जाने वाले पावर प्लांट के लिए यहां पर लोगों के द्वारा डटकर विरोध किया जा रहा है लोगों का कहना है कि इस पावर प्लांट से यहां पर बहुत सारे नुकसान देखने को मिलेंगे, लोगों के द्वारा कही गई बाते कुछ निम्न प्रकार से है-

★ धोद से VCA पॉवर प्राइवेट लिमिटेड को भगाओं संघर्ष
समिति के आहान पर 4 सितम्बर को भारी संख्या में जिला
कलेक्ट्रेट सीकर पहुंचकर अपने हक के लिए आवाज बुलन्द

Free Jio Air Fiber 5G, अब इस एक डिवाइस से घर में सबके मोबाइल पर चलेगा इंटरनेट, यहां से खरीदें

★ VCA पॉवर प्राइवेट लिमिटेड बायोमास बेस्ट को नष्ट करने का
प्लॉट धोद में लगा रही है। जो डेली का 400 टन कचरा को
नष्ट करने के लिए 540 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान पर गर्म किया
जायेगा। फिर प्लांट को ठंडा करने के लिए भारी मात्रा में पानी
का दोहन किया जायेगा।

VCA Power Plant Dhod

★ भारी मात्रा में पानी का दोहन मतलब भूमिगत जल सूख
जाना।
★ इलाके की खेती बर्बाद होगी।
★ पर्यावरण को भारी नुकसान होगा।
★ आने वाली नस्ले अनेक गंभीर बिमारियों से ग्रस्त होगी। प्लांट
से निकलने वाली राख को सड़कों के आस पास फेंका
जायेगा, जिससे प्रदूषण होगा।
★ प्लांट से धोद ग्रेड स्टेशन तक लाईन के लिए 13 टावरों का
निर्माण होगा।
★ किसानों की जमीन में होगा, जिससे हमेशा खतरा बना रहेगा।

TELEGRAM GROUP JOIN HERE

क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि हमें डार्क जोन में पानी का संकट पैदा करने वाला कारखाना बिल्कुल नहीं चाहिए शुद्ध हवा के लिए पर्यावरण की रक्षा करने के लिए हमें एकजुट होकर इसके लिए लड़ना होगा इस इलाके में खेती करने के लिए पानी की वैसे ही कमी है तो लोगों को डर लग रहा है कि यह प्लांट लगने के बाद यह भारी मात्रा में पानी का उपयोग करेगा जिससे खेती पर बुरा असर पड़ने वाला है इसलिए सभी लोग इकट्ठा होकर 4 सितंबर को सीकर जिले के कलेक्टर ऑफिस के आगे धरना देंगे

Leave a Comment