Mukhyamantri Yuva Swarojgar Yojana : सरकार सभी बेरोजगार युवाओं को रोजगार स्थापित करने के लिए दे रही है 25 लाख तक लोन, जाने कैसे मिलेगा आपको

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mukhyamantri Yuva Swarojgar Yojana

बेरोजगारी दर को काम करने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार के द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इसी तरह से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का संचालन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए सरकार की तरफ से बहुत ही कम ब्याज दर पर लोन उपलब्ध कराया जाता है।

सिर्फ यह एक कार्ड बनवाकर सभी किसान घर बैठे ले सकते हैं लाखों रुपए का फायदा, अभी आवेदन करें FREE

राज्य सरकार की तरफ से इस योजना के तहत व्यवसाय शुरू करने के लिए अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है जो लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है। अगर आप भी सरकार की इस योजना के तहत लोन प्राप्त कर अपना स्वरोजगार स्थापित करना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए फायदेमंद साबित होगा तो आप पोस्ट में अंत तक बने रहें।

चुनाव के बाद लाडली बहना आवास योजना का नया लिस्ट हुआ जारी, ऐसे देखे नई सूची में अपना नाम

सभी पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को मिलेगा 25 लाख रुपए तक का लोन

राज्य के पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना चलाया जा रहा है जिसके अंतर्गत उद्योग स्थापित करने के लिए सरकार की तरफ से अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है। वहीं सेवा क्षेत्र के लिए सरकार 10 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराता है। इसके अलावा होने वाले खर्चों पर सरकार की तरफ से 25% का मार्जिन मनी भी दिया जाता है। 

यानी की कुल मिलाकर राज्य सरकार की तरफ से उद्योग स्थापित करने में 6.25 लाख रुपए का मार्जिन मनी दिया जाता है जबकि सेवानिवृत्ति क्षेत्र में अधिकतम 2.5 लाख रुपए मार्जिन मनी देता है। राज्य सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया से गुजरना होता है। आवेदन का संपूर्ण जानकारी हमने नीचे दिया है।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लाभ और विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किए जा रहे मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत प्रत्येक पढ़े लिखे बेरोजगार युवाओं को खुद का रोजगार स्थापित करने के लिए सरकार बहुत कम ब्याज पर लोन उपलब्ध कराता है।
  • योजना के तहत अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन सरकार की तरफ से दिया जाता है। वहीं होने वाले खर्चों पर 6.5 लाख रुपए तक मार्जिन मनी भी दिया जाता है। 
  • वही सेवा क्षेत्र में सरकार 10 लाख रुपए का लोन उपलब्ध कराता है जिसमें 2.5 लाख रुपए तक का मार्जिन मनी मिलता है।
  • राज्य सरकार के इस योजना का लाभ 18 से 40 वर्ष के बीच का कोई भी व्यक्ति आसानी से प्राप्त कर सकता है।
  • राज्य सरकार की इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति की महिलाओं को आरक्षण भी प्राप्त होता हैं।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का लाभ पाने के लिए पात्रता

  • राज्य सरकार की इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश राज्य का रहने वाला मूल निवासी आवेदन आसानी से प्राप्त कर सकता है।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक का उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच का होना चाहिए।
  • आवेदक या आवेदक के परिवार के नाम पर पहले से कोई ऋण उपलब्ध होता है तो उस स्थिति में लाभ नहीं मिलता है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक कम से कम दसवीं पास होना चाहिए।
  • आवेदक के पास जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, पैन कार्ड, आधार कार्ड, राशन कार्ड, बीपीएल कार्ड, पासवर्ड साइज फोटो, मोबाइल नंबर इत्यादि जैसे दस्तावेज होने चाहिए।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए आवेदन कैसे करें? 

  • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी क्षेत्र के डिप्टी कमिश्नर के पास सभी जरूरी दस्तावेज लेकर के चले जाना है।
  • जाने के बाद वहां से आपको आवेदन फार्म प्राप्त करना होगा। आवेदन फार्म में पूछे गए सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना है।
  • इसके पश्चात आवेदन फार्म के साथ सभी जरूरी दस्तावेजों की पर्ची को संग्रह करके कार्यालय में जमा कर देना है।
  • जमा करने के पश्चात सरकारी अधिकारियों द्वारा आपके आवेदन फार्म को सत्यापित किया जाएगा। 
  • सब कुछ सही पाए जाने की स्थिति में जिला कलेक्टर, जिला पंचायत ,जिला रोजगार अधिकारी के द्वारा सत्यापित किया जाएगा।
  • सब कुछ सत्यापित होने के पश्चात 14 दिन के अंदर लाभार्थी के खाते में लोन की राशि को ट्रांसफर कर दिया जाता है।

तो कुछ इस तरह से आपको मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन स्वरोजगार स्थापित करने के लिए प्राप्त होता है।

बेरोजगारी दर को काम करने के लिए राज्य सरकार और केंद्र सरकार के द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जा रहा है। इसी तरह से उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का संचालन किया जा रहा है जिसके अंतर्गत पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार स्थापित करने के लिए सरकार की तरफ से बहुत ही कम ब्याज दर पर लोन उपलब्ध कराया जाता है।

राज्य सरकार की तरफ से इस योजना के तहत व्यवसाय शुरू करने के लिए अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है जो लाभार्थी के बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाता है। अगर आप भी सरकार की इस योजना के तहत लोन प्राप्त कर अपना स्वरोजगार स्थापित करना चाहते हैं तो यह पोस्ट आपके लिए फायदेमंद साबित होगा तो आप पोस्ट में अंत तक बने रहें।

सभी पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को मिलेगा 25 लाख रुपए तक का लोन

राज्य के पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार का अवसर प्रदान करने के लिए राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना चलाया जा रहा है जिसके अंतर्गत उद्योग स्थापित करने के लिए सरकार की तरफ से अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराया जाता है। वहीं सेवा क्षेत्र के लिए सरकार 10 लाख रुपए तक का लोन उपलब्ध कराता है। इसके अलावा होने वाले खर्चों पर सरकार की तरफ से 25% का मार्जिन मनी भी दिया जाता है। 

यानी की कुल मिलाकर राज्य सरकार की तरफ से उद्योग स्थापित करने में 6.25 लाख रुपए का मार्जिन मनी दिया जाता है जबकि सेवानिवृत्ति क्षेत्र में अधिकतम 2.5 लाख रुपए मार्जिन मनी देता है। राज्य सरकार की इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन प्रक्रिया से गुजरना होता है। आवेदन का संपूर्ण जानकारी हमने नीचे दिया है।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लाभ और विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किए जा रहे मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत प्रत्येक पढ़े लिखे बेरोजगार युवाओं को खुद का रोजगार स्थापित करने के लिए सरकार बहुत कम ब्याज पर लोन उपलब्ध कराता है।
  • योजना के तहत अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन सरकार की तरफ से दिया जाता है। वहीं होने वाले खर्चों पर 6.5 लाख रुपए तक मार्जिन मनी भी दिया जाता है। 
  • वही सेवा क्षेत्र में सरकार 10 लाख रुपए का लोन उपलब्ध कराता है जिसमें 2.5 लाख रुपए तक का मार्जिन मनी मिलता है।
  • राज्य सरकार के इस योजना का लाभ 18 से 40 वर्ष के बीच का कोई भी व्यक्ति आसानी से प्राप्त कर सकता है।
  • राज्य सरकार की इस योजना के अंतर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति की महिलाओं को आरक्षण भी प्राप्त होता हैं।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना का लाभ पाने के लिए पात्रता

  • राज्य सरकार की इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश राज्य का रहने वाला मूल निवासी आवेदन आसानी से प्राप्त कर सकता है।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक का उम्र 18 से 40 वर्ष के बीच का होना चाहिए।
  • आवेदक या आवेदक के परिवार के नाम पर पहले से कोई ऋण उपलब्ध होता है तो उस स्थिति में लाभ नहीं मिलता है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक कम से कम दसवीं पास होना चाहिए।
  • आवेदक के पास जाति प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आयु प्रमाण पत्र, पैन कार्ड, आधार कार्ड, राशन कार्ड, बीपीएल कार्ड, पासवर्ड साइज फोटो, मोबाइल नंबर इत्यादि जैसे दस्तावेज होने चाहिए।

मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के लिए आवेदन कैसे करें? 

  • मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी क्षेत्र के डिप्टी कमिश्नर के पास सभी जरूरी दस्तावेज लेकर के चले जाना है।
  • जाने के बाद वहां से आपको आवेदन फार्म प्राप्त करना होगा। आवेदन फार्म में पूछे गए सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरना है।
  • इसके पश्चात आवेदन फार्म के साथ सभी जरूरी दस्तावेजों की पर्ची को संग्रह करके कार्यालय में जमा कर देना है।
  • जमा करने के पश्चात सरकारी अधिकारियों द्वारा आपके आवेदन फार्म को सत्यापित किया जाएगा। 
  • सब कुछ सही पाए जाने की स्थिति में जिला कलेक्टर, जिला पंचायत ,जिला रोजगार अधिकारी के द्वारा सत्यापित किया जाएगा।
  • सब कुछ सत्यापित होने के पश्चात 14 दिन के अंदर लाभार्थी के खाते में लोन की राशि को ट्रांसफर कर दिया जाता है।

तो कुछ इस तरह से आपको मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत अधिकतम 25 लाख रुपए तक का लोन स्वरोजगार स्थापित करने के लिए प्राप्त होता है।

Leave a Comment