वाहन खरीदने पर सरकार देगी 5 लाख तक का अनुदान राशि, ऐसे करें आवेदन  

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Mukhyamantri Prakhand Parivahan Yojana

Mukhyamantri Prakhand Parivahan Yojana – यदि आप पढ़े-लिखे एक बेरोजगार युवा है और आप रोजगार की तलाश में है तो आपके लिए एक खुशखबरी निकाल कर आ रहा है। बता दे की सरकार अब सभी पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को खुद का रोजगार शुरू करने के लिए 5 लाख तक का अनुदान प्रदान कर रहा है।

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया केवाईसी फॉर्म कैसे भरें

जिसका लाभ लेकर युवा खुद का वाहन खरीद कर अपना नया व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। ऐसे में अगर आप भी खुद का वाहन खरीद कर रोजगार शुरू करना चाहते हैं तो आज का यह पोस्ट आपके लिए लाभदायक होने वाला है तो आप पोस्ट में अंत तक बने रहें। 

मात्र 20 हजार की लागत और कमाई ₹40000 महीना

वाहन खरीदने पर सरकार देगी 5 लाख तक का अनुदान राशि – Mukhyamantri Prakhand Parivahan Yojana

जैसा कि हम सभी को पता है केंद्र सरकार और राज्य सरकार के द्वारा पढ़े-लिखे बेरोजगार युवाओं को रोजगार प्रदान करने के लिए तरह-तरह की योजनाओं का संचालन करती है। इसी प्रकार से राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना का संचालन किया जा रहा है जिसके तहत खुद का वाहन खरीदने के लिए सरकार इच्छुक लाभार्थियों को 5 लाख रुपए तक का क्रय मूल्य पर अनुदान प्रदान करेगा।  

राज्य सरकार के इस योजना को संचालन करने के पीछे का मुख्य उद्देश्य बेरोजगारी दर को कमी करना है। इस योजना के संचालन से राज्य में परिवहन की सुविधा बेहतर होगी। सरकार के द्वारा इन्हीं सब बातों को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना का संचालन किया जा रहा है जिसका लाभ प्रत्येक लाभार्थी इसके आधिकारिक पोर्टल पर जाकर आवेदन कर ले सकता है।

आपको बता दे कि राज्य सरकार के द्वारा इस योजना को जिला मुख्यालय प्रखंड को छोड़कर शेष 496 प्रखंड में लाभ दिया जाना है। प्रत्येक प्रखंड में अधिकतम सरकार द्वारा साथ लाभुकों का चयन किया जाएगा जिसमें बस के क्रय मूल्य पर अनुदान प्रदान किया जाएगा। यदि किसी प्रखंड में अनुसूचित जाति की जनसंख्या 1000 से अधिक होती है तो उस स्थिति में सरकार अनुसूचित लाभार्थी एक और अतिरिक्त लाभ दिया जाएगा।

वर्गों के आधार पर मिलने वाला लाभ
  • एक सामान्य वर्ग के लोगों को
  • एक अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को एक 
  • एक पिछड़ा वर्ग के लोगों को 
  • दो अनुसूचित जाति के लोगों को 
  • दो अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोगों को
योजना का लाभ केवल इन लोगों को मिलेगा (पात्रता)
  • मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक का उम्र 18 वर्ष या उससे अधिक का होना चाहिए।
  • वहीं अगर आवेदक का परिवार में से कोई सदस्य सरकारी नौकरी या फिर आयकर दाता का हिस्सा होता है तो लाभ नहीं मिलेगा।
  • अभी तक योजना का लाभ अपनी प्रखंड से ही ले सकता है वह अन्य किसी प्रखंड से आवेदन नहीं कर सकता है।
  • योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए जो आधार कार्ड से लिंक हो।
  • इस योजना के लाभ मुख्य तौर पर बिहार राज्य के रहने वाले पढ़े लिखे बेरोजगार युवाओं को प्राप्त होगा।
  • वही योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक के पास आधार कार्ड, दसवीं का मार्कशीट, पैन कार्ड, पासपोर्ट साइज फोटो, मोबाइल नंबर, निवास प्रमाण पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस जैसे दस्तावेज मौजूद होने चाहिए।
मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना के लिए आवेदन कैसे करें 
  • मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इसके आधिकारिक वेबसाइट में जाना है।
  • आधिकारिक वेबसाइट में जाने के बाद आपको पेज को स्क्रोल कर नीचे की ओर जाना है जहां आपको Mukhyamantri Prakhand Parivahan Yojana का एक विकल्प देखने को मिलेगा जिस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जहां आपको For Apply Online के साथ Click Here का एक विकल्प मिलेगा जिस पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद अगले विकल्प में आपको पूछे गए सभी जरूरी जानकारी को भरना है फिर Register के बटन पर क्लिक करना है।
  • इसके पश्चात आपको एक यूजर आईडी तथा पासवर्ड प्राप्त होगा जिसकी मदद से पोर्टल में लॉगिन करना है।
  • पोर्टल में लोगिन करने के बाद आपके सामने एक आवेदन फार्म खुलकर आएगा जिसको भरना है।
  • इसके बाद अगली पेज में आपको जरूरी दस्तावेजों की पर्ची को स्कैन कर अपलोड करना है।
  • फिर अंत में सबमिट के बटन पर क्लिक करना है। क्लिक करने के साथ आपका ऑनलाइन आवेदन संपूर्ण हो जाएगा।

तो दोस्तों कुछ इस प्रकार की प्रक्रिया से गुजरने के पश्चात आप मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कर वाहन खरीदने के लिए अधिकतम 5 लाख रूपए तक का अनुदान प्राप्त कर सकते हैं।

मुख्यमंत्री प्रखंड परिवहन योजना के लाभार्थियों का चयन प्रक्रिया 
  • बिहार सरकार के द्वारा इस योजना के तहत लाभार्थियों का चयन उनके शैक्षणिक योग्यता के आधार पर किया जाएगा।
  • जिस लाभार्थी का 10वीं में अधिक अंक होगा उसे पहले योजना के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।
  • वहीं सामान्य समान अंक पाए जाने की स्थिति में अधिक उम्र वाले लाभार्थी को पहले प्राथमिकता मिलेगी।
  • इस योजना के तहत सूची तैयार जिला अधिकारी के अध्यक्ष एवं उप विकास आयुक्त के सदस्य तथा जिला प्रखंड परिवहन पदाधिकारी के सचिव के द्वारा किया जाएगा।

Leave a Comment